“मैं उसे गले लगाना और खाना खिलाना चाहती हूं…” : दिशा रवि की मां ने की NDTV से बात


दिशा रवि की मां से एनडीटीवी ने बातचीत की

बेंगलुरु:

टूलकिट केस में गिरफ्तार पर्यावरण कार्यकर्ता दिशा रवि (Disha Ravi) को पटियाला हाउस कोर्ट से मंगलवार को जमानत मिल गई. उन्‍हें एक लाख के निजी मुचलके पर जमानत मिली है. दिशा की पुलिस ने 4 दिन की पुलिस रिमांड मांगी थी. दिशा रवि की मां से एनडीटीवी ने बातचीत की. उन्होंने कहा, ”मुझे राहत मिली, मैं बहुत खुश हूं. मुझे भारत के कानून व्यवस्था पर भरोसा है. भारत में सत्य का मूल्य है. मैं नहीं जानती कि उन सभी लोगों को कैसे धन्यवाद कहना चाहिए, जिन्होंने उसका (दिशा रवि) समर्थन किया और उसके लिए आगे आकर खड़े हुए.”

यह भी पढ़ें

एनडीटीवी से बात करते वक्त दिशा रवि की मां काफी भावुक भी हो गई. उन्होंने आगे कहा, ”जब वो वापस आएगी तो मैं उसे गले लगाना और खाना खिलाना चाहती हूं.”

दिशा रवि की मां ने कहा, ”जब भी हमारी द‍िशा से बात हुई तो उसने हमें हिम्मत दी. मेरी बेटी बहुत मजबूत और साहसिक है. इस सब के बाद मैं एक मजबूत मां के रूप में उभरी हूं. अन्य माता-पिता को भी मेरा संदेश है कि हमें अपने बच्चों के साथ ऐसे कठिन समय में खड़े होना चाहिए, उनके लिए हमें मजबूत होना चाहिए.”

गौरतलब है कि इससे पहले, सोमवार को पटियाला हाउस कोर्ट ने दिशा रवि को एक और दिन की पुलिस कस्टडी (Police Custody) में भेजने का आदेश दिया था. दिल्ली पुलिस ने 5 दिन की पुलिस कस्टडी मांगी थी.

Newsbeep

टूलकिट मामले में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने बेंगलुरु से 22 साल की क्लाइमेट एक्टिविस्ट दिशा रवि को 14 फरवरी को गिरफ्तार किया था. 21 साल की यह एक्टिविस्ट फ्राइडे फॉर फ्यूचर कैम्पेन की फॉउंडरों में से एक हैं. बता दें कि 4 फरवरी को दिल्ली पुलिस ने टूलकिट को लेकर केस दर्ज किया था. आरोप है कि दिशा रवि ने किसानों से जुड़ी टूलकिट को एडिट किया, उसमें कुछ चीजें जोड़ी और उसको आगे भेजा था. दिशा बेंगलुरु के प्रतिष्ठित वुमंस कॉलेज में शामिल माउंट कार्मेल की स्टूडेंट है.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *